Horror Story Writing in Hindi चुड़ैल, भूत, प्रेत, आत्मा,

Horror Story Writing in Hindi

Horror Story Writing In Hindi चुड़ैल का जंगल 

आपने इससे पहले बहुत सारी हॉरर स्टोरी पढ़ी होंगी लेकिन आज जो मैं आपको हॉरर स्टोरी बात आने वाला हूं दरअसल वह थोड़ी दूसरों से अलग है क्योंकि इस हॉरर स्टोरी में आपको थोड़ा डर, के साथ हंसी मजाक भी इस स्टोरी में आपको पढ़ने को मिलेगा।

सच कहूं तो यह एक ऐसी हॉरर स्टोरी है जो सच में आपको इंजॉय करवाती है इस कहानी को पढ़कर आप अपने दिमाग की भावनाओं पर काबू पा सकते हैं। यह कहानी एक जाने-माने लेखक के द्वारा लिखी गई है। जिसका नाम हैं Hindi-Story.net 

Horror Story Writing In Hindi

एक गांव में मुंशी नाम का लड़का रहता था वह अपने गांव में लकड़ी लाने का काम करता था इसीलिए उसे हर दिन जंगल जाना पड़ता था और वहां से लकड़ी काटकर उनका गट्ठर बनाकर अपने सिर पर रख कर गांव लाना पड़ता था। 

एक दिन जब मुंशी जंगल से लकड़ी काट कर ला रहा था तो उसे एक अजीब सी आवाज सुनाई दी इससे पहले मुंशी ने इस तरह की आवाज कभी नहीं सुनी थी।

Horror Story Writing in Hindi : अजीब सी आवाज सुनकर मुंशी थोड़ा डर गया। उसे लगा कि कोई कोई जानवर उसके आसपास शिकार की तलाश में भटक रहा है। यह सोचकर मुंशी ने फिर से अपना एक कदम आगे बढ़ाया तभी मुंशी को फिर से एक आवाज सुनाई दी लेकिन यह आवाज थोड़ी अलग थी इस आवाज में मुंशी को किसी बच्चे की रोने की आवाज सुनाई दी मुंशी को अब पूरा शक हो चुका था कि कोई जानवर  गांव से छोटे बच्चे को शिकार करके उठा लाया है।

इसलिए मुंशी ने अपने सिर से लकड़ी का गट्ठर नीचे उतारा और हाथ में लकड़ी काटने की कुल्हाड़ी को पकड़कर 

आस पास की झाड़ियों में देखने लगा।

मुंशी झाड़ियों में देख ही रहा था कि अचानक से उसके सिर के ऊपर खून की दो बूंदे पड़ी मुंशी ने पहले तो समझा  कि ऊपर से पानी गिरा होगा इसलिए उसने अपने हाथ से सिर को फैरा और जब उसने अपने हाथों में खून देखा तो वह और भी डर गया।

अब मुंशी को कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था इसलिए मुंशी ने तुरंत वहां से भागना ही बेहतर समझा और कुछ ही देर में मुंशी वहां से भागते हुए अपने गांव जा पहुंचा। मुंशी की कुल्हाड़ी और लकड़ी का गट्ठर वही जंगल में रहा गया।

अगले दिन जब गांव वालों ने मुंशी से लकड़ी के बारे में पूछा और कहा क्या मुंशी आज तुम लकड़ी लेकर नहीं आयें क्या बात हैं। 

मुंशी ने कहाँ कुछ नहीं बस कल से मेरी तबीयत कुछ ठीक नहीं है इसलिए मैं आज लकड़ी लेने जंगल नहीं जा पाऊंगा। तुम किसी और से कह दो जंगल चला जाए लकड़ी लेने मैं नहीं जा पाऊंगा।

मुंशी को इस तरह से बातें करते देख गांव वालों को कुछ शक हुआ। इसलिए गांव वालों ने मुंशी पर ज़ोर डाल कर पूछा कोई समस्या है तो हम सबको बताओ इस तरह से तो तुमने पहले कभी बातें नहीं कि जब तुमको तेज बुखार हुआ था तब भी तुम जंगल जाते थे लकड़ी लेने और आज तो तुमको कोई बीमारी भी नहीं हैं तो ये बहाना किस लिए  कुछ तो बात हैं। Horror Story Writing in Hindi 

गाँव वालो कि बाते सुनकर मुंशी का थोड़ हौसला बढ़ा और उसने जंगल कि सारी बातें बता दी गाँव वाले मुंशी कि बाते सुनकर हंसने लगे और फिर मुंशी से बोले तुम्हारा कोई भरम होगा। जो तुम इतना डर गए। 

चलो हम सभी गाँव वाले तुम्हारे साथ जंगल चलते हैं और देखते हैं तुम्हारी बातों में कितनी सच्ची हैं।

मुंशी गांव वालों की बातें सुनकर कहता है मैं नहीं जाऊंगा तुमको जाना हो तो तुम जाओ मैं बहुत डर गया हूं इसलिए मैं नहीं जाऊंगा। गांव वालों के जोर देने पर मुंशी कहता है ठीक है चलता हूं पर मुझे एक थैले में मांस का ताजा टुकड़ा दे दो तभी मैं जंगल जाऊंगा।

मुंशी जनता था कि अगर कोई बुरी आत्मा होगी तो वह मांस का टुकड़ा देख कर जरूर आएगी।

गांव वाले मुंशी कि बात मान लेते हैं और वे मुंशी को ताजा मांस का टुकड़ा दे देते हैं और कहते हैं अब चलो मेरे साथ जब सभी गांव वाले जंगल पहुंचते हैं तो देखते हैं कि वहां पर बहुत सारी चुड़ैल बैठी हुई हैं यह सब देखकर गांव वाले बहुत डर जाते हैं और भागने लगते हैं।

गाँव वालों में से दो लोगों ऐसे होते हैं जो बिल्कुल भी चुड़ैल, भूत, प्रेत, आत्मा, भगवान आदि पर विश्वास नहीं करते हैं उनको लगता है कि यह इसी तरह का छलावा है जो उनके साथ किया जा रहा है।

Horror Story Writing in Hindi

इसलिए वे भागे नहीं बल्कि खुद ही दौड़ कर एक रानी चुड़ैल को पकड़ लिया। एक व्यक्ति ने पीछे से दोनों हाथ पकड़े और एक व्यक्ति ने आगे से चुड़ैल को देने लगा। ये मारा लागोदा ये फिर मारा लागोदा चुड़ैल कि सारी हेकड़ी निकल गई और चिल्लाकर भागी बचाओ ये तो राक्षस हैं भागों भागों तभी दूसरे व्यक्ति ने फिर से एक चुड़ैल को पकड़ लिया वह चुड़ैल देखने में बहुत सुंदर थी इस लिए दोनों व्यक्तियों ने मन बनाया कि वह इससे शादी करेगे।

Horror Story Writing in Hindi

चुड़ैल बहुत डर चुकी थी उसे लगा कि ये सच में राक्षस हैं और अब ये दोनों राक्षस उससे शादी करेगे, ये सोच कर चुड़ैल ज़ोर ज़ोर से रोने लगी। 

दोनों व्यक्तियों ने सुंदर चुड़ैल से कहा अब तुम्हारे रोने से कुछ नहीं अब तुम बनोगी हमारी बीबी यही तुम्हारी सजा हैं। ये कहकर दोनों व्यक्तियों ने सुंदर चुड़ैल को अपने कंधो पर  लाद कर अपने गाँव ले गए और उससे शादी कर ली। इस तरह से जंगल कि सभी चुड़ैल भाग गई और पूरा गाँव फिर से शांति पूर्वक रहने लगा।

Post a Comment