Top Moral Stories in Hindi

Top Moral Stories in Hindi


Top Moral Stories in Hindi 

एक जंगल में दो शेर रहते थे वे दोनों आपस में ख़ूब मौज मस्ती किया करते थे एक दिन जंगल में सभी जनवारों ने शेर से कहा महाराज बहुत साल बीत चुके हैं लेकिन कभी भी जंगल में मेला नहीं लगा हैं। तो इस बार हम सभी चाहते है। की जंगल में मेला लगे और हमरे जंगल में भी नाच गाना हो। शेर ने कहा हाँ ठीक हैं तो इस बार बड़े धूम धाम से मेला बनाएगे जंगल में ये कहकर शेर अपने दोस्त के साथ खेलने चला गया।

अगले दिन जब शेर ने देखा की सच में मेला लगा हैं जंगल में तो वह  देख कर बहुत खुश हुआ और मारे

 ख़ुशी के उसने हाथी से कहा दिया। सुनो हाथी तुम जब इंसानों की बस्ती में होते हो तो तुम सभी बच्चों और व्यक्तियों को अपनी पीठ पर बैठा कर सैर कराते हो और आज हमारे जंगल में मेला लगा हैं तो तुम किसी भी जानवर को अपनी पीठ पर बैठा कर सैर नहीं करा रहें हो। चलो मुझे अपनी पीठ पर बैठाओ और सैर कराओ जी महाराज लेकिन मुझे क्षमा करें महाराज  मेरी पीठ पर कोई कुर्सी बंधी नहीं हैं। इसलिए मैं आपको बैठा नहीं सकता।

Top Moral Stories in Hindi 

ये कहकर हाथी अपने दोस्तों के साथ खेलने लगा। शेर को लगा की हाथी सैर करने के लिए बहाना बना रहा हैं इसलिए शेर ने तेज आवाज में कहा सुन हाथी मुझे अपनी पर बैठ नहीं तो मैं तुझे मार दूंगा। शेर को क्रोधित देखा हाथी ने अपनी पीठ को थोड़ा नीचे कर दिया और कहा अब आप महाराज मेरी पीठ पर बैठ जाइए।

Top Moral Stories in Hindi 

शेर ने तुरंत अपने पैर हाथी के पीठ पर रखा और चड़ गया। जैसे ही शेर ने हाथी से कहा चलो हाथी उठा और धीरे धीरे चलने लगा। हाथी को धीमा चलते देख शेर को बहुत गुस्सा आया और शेर ने क्रोधित होकर तेज आवाज में कहा तेज चलो शेर को क्रोधित देख हाथी तेज़ तेज़ से चलने लगा तभी अचानक हाथी का पैर फिसल गया और शेर नीचे धड़ाम से जा गिरा। नीचे गिरते ही शेर की रीड की हड्डी टूट गई। अब शेर लंगड़ा ते हुए बोला काश पहले ही हाथी की बात मान लेता तो आज मेरा यह हाल न होता।


Post a Comment

0 Comments