मेरी जिंदगी की जादुई गेंद Hindi Story - Kahaniya

Hindi Story - Kahaniya

मेरी जिंदगी की जादुई गेंद Meri Jindagi Ki Jadui Gend

इस कहानी को पढ़ने से पहले आप ये जान ले की आप इस कहानी को क्यों पढ़ें। इसमें ऐसा क्या हैं जो आपको पढ़ने पर मजबूर करती हैं क्या हैं इस कहानी की स्टोरी तो चलिये मैं आपको बताता हूँ की आप इस कहानी को क्यों पढ़ें ?  यह फिर हमें इस कहानी को क्यों पढ़ना चाहिए?

यह एक ऐसी सच्ची कहानी हैं जो हमरे आस पास किसी व्यक्ति के जीवन से (रिलेटेड) जुड़ी हुई हैं। जब मैं उदास होता हूँ तो यह कहानी मुझे अंदर से कुछ नया करने के लिए प्रेरित करती हैं।

यह मेरे जैसे तमाम लोगो की जीवन की कहानी हैं, जो बहुत ही आश्चर्य तथा अपने आप में ही दिलचप्स हैं, अगर आप एक स्टूडेंट, नॉर्मल व्यक्ति या बिजेनेस मेन व्यक्ति हैं तो आपको ये कहानी जरूर पसंद आएगी। क्यों की ये कहानी काही न काही आपके जीवन से जरूर जुड़ी होगी।

क्या मैं इस कहानी को बड़ा चड़ा कर बोल रहा हूँ नहीं बिल्कुल भी नहीं मैं इस कहानी को बड़ा चड़ा कर नहीं बता रहा हूँ बल्कि मैं आपको ये बता रहा हूँ की आप जब भी उदास होगे तो ये कहानी आपको जरूर अंदर से प्रोत्साहित करेगी कुछ नया करने के लिए आपको प्रेरित करेगी।

ये तो आपको समझ मे आ गया होगा लेकिन इस कहानी में जादुई गेंद का क्या मतलब हैं इसे क्यों रखा हैं तो थोड़ा रुको मैं आपको अच्छे से समझता हूँ की ये जादुई गेंद क्या हैं।

इस कहानी में जो जादुई गेंद हैं उसे हम निम्न लिखित नामों से तुलना करते हैं जैसे- प्रॉब्लम, समस्या, नकारात्मक सोच, क्रोध, नफरत, ईर्ष्या, असफलता, काम में मन न लगना, छोटी सोच, किस्मत और भी बहुत सारे नाम हैं।

ये मेरी जिंदगी की कहानी हैं और ये जो जादुई गेंद हैं यह हैं मेरी जिंदगी की सबसे बड़ी प्रॉब्लम यह हम कहा सकते हैं। जो मेरे जीवन में नकारात्मक, सोच, क्रोध, नफरत, ईर्ष्या, असफलता, आई वह सब बस एक जादुई गेंद थी जो मेरे सामने हर बार आ जाती थी और मुझे हर बार उदास कर जाती थी। कमिंग सून.. 

Post a Comment

0 Comments