Very Short Story In Hindi | छोटी कहानियाँ ( Chhoti Kahaniya )

हेलो दोस्तों आज हम इस पोस्ट में दुनिया की सबसे छोटी कहानियाँ पढ़ेगे। इसके साथ ही इन कहानियों में कुछ ऐसे राज छुपे हुये जिन्हें जान लेने पर आपके जीवन में कुछ ऐसे चमत्कारी बदलाव होगे जिससे आपका जीवन सफल हो जाएगा। Very short story in hindi कहानियों में सफलता के रहस्य, बुद्धिमत, लीडर बनाने की काबिलियत, जादुई किस्से, कठोर मेहनत, अच्छे संस्कार, अच्छे विचार आदि पर कहानियाँ लिखी गई हैं जिनको पढ़कर आपके माइंड में कुछ ऐसे विचार जाएगे जिनसे आप बहुत ही काबिल बुद्धिमान व्यक्ति बन जाएगे।

Very Short Story In Hindi | छोटी कहानियाँ Chhoti kahaniya

  1. सफल व्यक्ति की कहानी: Saphal Vykti Ki kahani

इस कहानी की शुरवात होती हैं उत्तर प्रदेश के छोटे से जिले बाराबंकी से जहां एक लड़का अपने सपनों को लेकर पढ़ाई कर रहा था। 
उस लड़के को क्या पता था की जिस चीज की वह पढ़ाई कर रहा हैं उससे उसका भविष्य पूरी तरह से बर्बाद हो जाएगा। उसके सपने कभी भी पूरे नहीं होगे इसलिए उस लड़के ने कुछ ऐसा करना चाहा जिससे उसके सपने पूरे हो सकते थे।

मेरे गाँव की एक कहावत हैं काम और दाम में दोनों में ज्यादा अंतर नहीं होता हैं इसलिए आपको वही करना चाहिए जिसमें आपको ज्यादा से ज्यादा पैसा मिले।
लेकिन वह लड़का कुछ अलग करना चाहता हैं अपने गाँव और समाज से इसलिए उसने अपने ख़ास दोस्तों से राय ली तो उसके दोस्त उसी के ऊपर हंसने लगे और उसकी हंसी उढ़ाने लगे।

Very Short Story In Hindi 

वह लड़का चुप चाप खड़े होकर सभी के बाते सुनता रहा धीरे धीरे समय बीतता गाय और वह लड़के ने स्कूल की बेसिक पढ़ाई समाप्त कर ली।

अब उसके पास दो ही रास्ते बचे थे वह लड़का अपने गाँव समाज की सोच के अनुसार आगे की पढ़ाई करता यह फिर अपने सपनों के लिए ऐसी पढ़ाई करता जिससे उसके सपने तो पूरे होते लेकिन उसके साथ में चलने वाला कोई नहीं होता।

सभी लोगों की तरह ही उसने भी अपने गाँव समाज की सोच के अनुसार पढ़ाई शुरू कर दी लेकिन उसका अभी भी मन पूरी तरह से पढ़ाई में नहीं लगा रहा था।

जिसके कारण उसके व्यावहर में दिनों दिन बदलाव होने शुरू हो गए। वह सभी लोगों से दूर रहे लगा वह अकेले ही अपने सपनों को यदा करके मस्त रहता और जब भी वह कोई ऐसा काम करता जिससे उसको काफी मेहनत पड़ती तो उसे अपने वही सपने याद आते जो वह अपने स्कूल लाइफ में देखा करता था।

Very Short Story In Hindi 

अपने सपनों को याद करके वह सोचने लगता की मुझे तो अपने सपनों के लिए काम करना था मैं यह क्या कर रहा  मुझे तो कुछ अलग करना था अपने समाज से इसलिए एक दिन उसने अपने सपनों के बारे में अच्छे से सोचा फिर ज़ोर ज़ोर से रोने लगा और रोते हुये उसने कहा आज जो मैं करने वह शायद मेरी जिंदगी का सबसे बुरा या मेरी जिंदगी का सबसे अच्छा पल होगा।

क्यों की आज मैं  अपने  सपनो  के  लिए काम  करुँगा उसे सब पता था की वह  जो  करने  जा रहा उसके  लिए  उसके माता पिता भाई बहन कभी भी  राजी नहीं होंगे इसलिए उसने पढाई को साइड में रखा कर चुपके चुपके से अपने सपनों  के  लिए काम  करने  लगा। 

लेकिन कुछ महीने बीत जाने के बाद भी उसके हाथ में कुछ भी नहीं लगा वह फिर से उदास हो गया लेकिन उसको काम करने का एक्सपीरयंस थोड़ा थोड़ा होने लगा.
 उसने अपना फ़ोन निकला और मोटिवेशन वीडियो देखा जिससे उसको कुछ हिम्मत मिली और वह फिर से अपने सपनों  के  लिए काम करने लगा लेकिन यह क्या देखते ही देखते उसके 2 साल निकल गए और उसके हाथ में फिर से कुछ नहीं लगा.

Very Short Story In Hindi 

ऐसा नहीं था की  उसको ज्ञान नहीं उसको ज्ञान था पर उसको सक्सेस नहीं मिल पा रही थी वह उदाश रहने लगा अब उसकी हिम्मत अंदर से टूटने लगी. और उसके ऊपर घर वालों  का प्रेशर आने लगा क्योंकी उसकी उम्र के लगभग सभी दोस्त नौकरी या अपने अपने काम में लग चुके थे। 

उस लड़के को अपने आप से नफ़रत होने लगी। 
कई बार तो उसने ऐसा सोचा जो आप सभी लोग कभी सोच भी नहीं सकते थे। 
वह अपनी लाइफ को समाप्त करना चाहता था। अब उसे कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था की वह क्या करे ओर क्या न करें। 

एक दिन वह फ़ोन चला रहा था तभी उसको एक आर्टिकल दिखा जो उसकी तरह ही एक व्यक्ति ने अपने बारे में लिखा था। 
उस आर्टिकल को पढ़ा कर मानो उसके अंदर एक एनर्जी सी पैदा हुई जो उसे इससे पहले काही और नहीं मिली थी और उसने उसी समय दृण निश्चय कर लिया की वह तब तक काम करता ही रहेगा जब तक उसको अपने फिल्ड में सफलता नहीं मिल जाती।

Very Short Story In Hindi 

उसको क्या पता था की यही उसके जीवन का सबसे अहम पल था जिसे समय उसने दृण निश्चय किया था।
उसके माइंड में बस यही बाते चलती रहती की सफलता पाने के लिए उसे ओर क्या करना चाहिए ।
वह दिन भर काम करता और रात में भी देर से सोता यही उसके जीवन का लक्ष्य बन चुका था।

जिस सपने को वह सोते हुये देखता था ! अब वही सपने उसे सोने नहीं देते थे !
अब उसके अंदर एक जोश था जो उसे दिन रात काम करवाता था और जब वह सोने जाता तो उसके सपने उसके आँखों के सामने आ जाते और फिर उसकी नींद मनो छू मंतर हो जाती।

क्या वह लड़का पागल हो गया था यह उसको किसी अजीब तरह की बीमारी हो गई थी जिससे उसको रात में नींद नहीं आ रही थी। 
रात भर जगाता रहता हैं लेकिन उसको नींद नहीं आती अब उसे सोने के लिए कई मिनटों तक अपने हाथ को आँखों पर रखना ढकना पड़ता जिससे उसको नींद आ जाए।

Very Short Story In Hindi 

किसी महान व्यक्ति ने कहा था सपने वे नहीं हैं जो आप देखते हैं बल्कि सपने तो वे हैं जो आपको रात भर जागते रहते हैं।

उस लड़के को सफलता के अलावा कुछ और दिख ही नहीं रहा था अब उसे उस बात से फर्क ही नहीं पड़ता था की उसे लोग क्या कहा रहे है उसे किसी की कोई परवा नहीं थी उसे सिर्फ अपने सपनों की परवाह थी जिसके लिए वह अपनी जान भी हँसते हुये दे देता और एक बार भी अह तक नहीं करता मानो यही उसके जीवन का लक्ष्य था।

दो सालों तक वह इसी तरह से काम करता रहा फिर उसको ख़ुद ब ख़ुद मालूम होने लगा की वह सफल तभी हो गया था जब उसने अपने सपनों को पाने के लिए अपनी संपूर्ण जिंदगी लगा दी थी।

जब लोगो ने उस लड़के का इंटरव्यू लिया तो उसने साफ शब्दों में कहाँ सफल तो वह तभी हो गया जब उसने ऐसे सपने देखे थे। जिन सपनों के बिना वह जीवित नहीं रहा सकता था।

Very Short Story In Hindi 

सफलता आपसे आपका समय मांगती हैं जिसने अपनी जिंदगी का सम्पूर्ण समय सफलता को दे दिया वह व्यक्ति सफल हो जाएगा।

इस कहानी को मैंने अपने जीवन के आधार पर लिखा हैं यही मेरे जीवन की छोटी सी कहानी हैं जो आज आप पढ़ रहे हैं।

इस कहानी में एक मोटिवेशन हैं की हमें हर नहीं माननी चाहिए फिर चाहे आपको कितना भी समय लग जाए।
जब आप अंदर से टूटने लगते हैं तो आस पास के लोग भी आपको मजबूर कर देते हैं की आप टूट जाए। कोई आपको सहारा नहीं देगा, कोई आपको Motivate नहीं करेगा यही हमरे समाज की सोच हैं।
 
कहानी की सीख:  जब तक आप अपने सपनों के पीछे पागल नहीं होगे तब तक आपको सफलता नहीं मिलेगी।

Post a Comment